IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी संभालने के बाद फिट रहने के लिए घर में

[ad_1]

IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी संभालने के बाद फिट रहने के लिए घर में घास काट रहे ऋषभ पंत, वीडियो शेयर करके की ये अपील

IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी संभालने के बाद फिट रहने के लिए घर में घास काट रहे ऋषभ पंत, वीडियो शेयर करके की ये अपील- दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत आईपीएल 2021 के स्थगित होने के बाद अपने घर पहुंच गए हैं. उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से एक वीडियो शेयर किया है जिसमें वो घास काटते हुए नजर आ रहे हैं.

 भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने ट्वीट करके लिखा, ”ये दिल मांगे ”Mower”! फोर्स क्वारंटीन ब्रेक लेकिन खुश हूं कि घर के अंदर सक्रिय रहने में सक्षम हूं. कृपया सभी सुरक्षित रहें

ये भी पढ़ें- ICC WTC Closing: कोहली, रहाणे, धवन और पुजारा ने कोवैक्सीन और कोविशील्ड में से कौन सी वैक्सीन लगवाई, जानिए पूरी डिटेल्स

आईपीएल 2021 में ऋषभ पंत को श्रेयस अय्यर के चोटिल होने के कारण कप्तानी सौंपी गई. श्रेयस के कंधे की हड्डी इंग्लैंड के खिलाफ एक दिवसीय सीरीज के दौरान लगी चोट के कारण खिसक गई थी.

अपनी कप्तानी में ऋषभ पंत ने दिल्ली कैपिटल्स को झुकने नहीं दिया. कई मौको पर उन्होंने कप्तानी पारी भी खेली और टीम की जरुरत के हिसाब से खेलने भी उतरे. इंडियन प्रीमियर लीग गवर्निंग काउंसिल (आईपीएलजीसी) और बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया (बीसीसीआई) ने एक आपात्कालीन बैठक में तत्काल प्रभाव से आईपीएल 2021 को स्थगित करने का फैसला किया.

आईपीएल 2021 के स्थगित होने से पहले दिल्ली कैपिटल्स की टीम पंत के नेतृत्व में कुल 8 मैच खेल चुकी थी और 6 मैच जीतते हुए अंकतालिका में शीर्ष स्थान पर कायम थी. उन्होंने दो मैच गवाएं थे. टीम के कुल 12 अंक थे.

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ और इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ऋषभ पंत खेलते हुए नजर आएंगे.

इससे पहले दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने भी कोरोनावायरस से लड़ने के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर और बेड दान में देने का फैसला किया है. ऋषभ पंत ने ट्विटर के जरिए एक पोस्ट करके इस बात की पुष्टि की है.

ये भी पढ़ें- IND vs SL: श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज से बाहर हो सकते हैं श्रेयस अय्यर, फिट होने पर मिलेगी टीम की कमान

ऋषभ पंत ने ट्वीट करके लिखा, ”देश में निराशा का माहौल बहुत अधिक है और इससे मैं बहुत अधिक प्रभावित हुआ हूं. मैं उन लोगों के साथ खड़ा हूं जिन्होंने काफी दुख सहा है और उन लोगों की आत्मा के लिए प्रार्थना करता हूं जो हमें छोड़ कर चले गए हैं. मैंने खेल से एक चीज जो सीखी है वो है कि किसी एक चीज के लिए बतौर टीम मिलकर काम करना. मैं उन फ्रंटलाइन वर्कर्स को सैल्यूट करता हूं जिन्होंने पिछले साल से ही भारत को इस स्थिति से निकालने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं. मैं हेमकुंट फाउंडेशन को सपोर्ट कर रहा हूं और पैसे भी दान दिए हैं. जिससे ऑक्सीजन सिलेंडर, बेड और कोविड रिलीफ किट की व्यवस्था की जाएगी.”



[ad_2]

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *